स्कूल की बीएफ सेक्सी

Image source,ब्लु फिल्म इंग्लिश

तस्वीर का शीर्षक ,

ब्लू बीएफ हॉट: स्कूल की बीएफ सेक्सी, तब पता चला कि ये सब वास्तविक रूप से होती ही हैं।अब मैं अपने बारे में बता हूँ.

बिलू पिकचर

बस देर ना लगाते हुए मैंने लंड को शाज़िया की चूत पर रगड़ने लगा। शाज़िया कमर उछाल कर सिसकारती हुई बोली- जाना. छूत कैसी होमैंने बोला- नहीं पगली, कुछ नहीं होता।उसने बोला- तो कल मैं उसके साथ तेरे रूम पर आऊँगी।मैंने ‘हाँ’ बोल दिया।अगले दिन करीब 10 बजे दोनों कमरे पर आए।मैंने उन दोनों को अन्दर बुलाया और चाय पिलाई।इतने में मेरा ब्वॉयफ्रेण्ड भी आ गया.

मैं कैसे पहले जाऊँगा ये प्लान को तुझे अंजाम देना है।सन्नी उनको समझने लगा कि कैसे कल सब काम करना है और उसने अर्जुन को भी कुछ बातें समझा दीं।उधर पुनीत गाड़ी में बैठा ही था कि पायल उस पर बरस पड़ी।पायल- भाई ये क्या नाटक है. गर्भवती महिला की चुदाईपर मैं वहाँ से निकल गई और कार में बैठ कर घर वापस आ गई।आज भी जब सोचती हूँ तो यकीन नहीं आता कि वो मैं ही थी। इतनी डेरिंग और इतनी स्टूपिडली मेरे अलावा कोई और नहीं कर सकता.

यूँ भी समझ सकते हैं।बरहराल मुझे शादीशुदा लड़कियाँ, भाभियाँ बहुत पसंद हैं, मुझे सेक्स के टॉपिक बहुत पसंद हैं, सेक्स करने के लिए मैं मरा जाता रहा हूँ।मेरी कहानी तब शुरू हुई.स्कूल की बीएफ सेक्सी: फिर अगले दिन ताई जी और ताऊ जी किसी काम से बाहर जा रहे थे और घर में खाना बनाने वाला कोई नहीं था तो सुबह ताई जी घर आकर मम्मी को बोल गईं कि संदीप घर में अकेला है और उसको खाना दे देना.

आज लद ले (बैठ ले) बाइक पे!’पीछे वाला थोड़ा आगे खिसक गया और मैं बैठने लगा.गाने सुनते सुनते रात हो गई और खाना खाकर हम लोग फिल्म देखने लगे।उसी समय फिल्म ‘सनम रे’ रिलीज़ हुई थी।मैं मौका पाकर सबसे पहले पलंग पर पीयूष की बगल में जाकर बैठा और उसके पास लेटकर फिल्म देखने लगा।रात के 11 बज चुके थे.

ब्लू सेक्स गुजराती - स्कूल की बीएफ सेक्सी

मैं 25 साल का एक 5’10” की हाइट का हट्टा-कट्टा लड़का हूँ और लौड़े का साइज मैंने कभी नापा नहीं है।यह मेरी पहली कहानी है.तो वो फिर कपड़े नीचे करने लगी।मैंने उसे फुसला कर मना लिया और लगातर दूध चूसने लगा।यह कहानी आप अन्तर्वासना डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं !क्या मजा आया दोस्तो.

’ जैसी मस्त आवाजें सुनने को मिल रही थीं,अब वो लण्ड लेने के लिए तड़प रही थी।अंततः मैंने उसकी चूत में अपना 6 इंची लौड़ा पेलना शुरू किया। धीरे-धीरे चुदाई जोर पकड़ने लगी। हमारे नंगे बदन एक-दूसरे में समा जाना चाहते थे.स्कूल की बीएफ सेक्सी फिर अपने आप मेरा हाथ उनके पेट पर चला गया और उन्होंने भी मेरे हाथ पर अपना हाथ रख दिया जैसे एक पति पत्नी सोते समय रख लेते हैं वैसे ही हाथों की स्थिति हो गई।हमारे इस खेल को शुरू हुए लगभग 15 मिनट हो गए थे। मेरा लण्ड बुरी तरह से सख्त हो चुका था.

वो फ़ौरन कार में मेरी बीवी के पीछे वाली सीट पर बैठ गया और मैंने कार आगे बढ़ा दी।उसे शायद अंदाजा था कि मेरी पत्नी की चूचियाँ दुपट्टे के नीचे शायद नंगी होगीं.

पूजा नाम की लड़की कैसी होती है?

स्कूल की बीएफ सेक्सी और ना ही उसके बस में था।पूजा सलवार तो उतार चुकी ही थी सो मैंने भी देर ना करते हुए उसकी पिंक कलर की पैन्टी को नीचे खींच दिया।अब हम दोनों नीचे से बिल्कुल नंगे हो गए थे और मैंने अपना लंड चूत पर रगड़ना शुरू कर दिया।इससे पूजा सिसकारियाँ लेने लगी ‘आहहाअ.

कंडोम लगाने से क्या होता है?जयपुर सेक्सी बीएफ वीडियो

स्कूल की बीएफ सेक्सी मेघा ने चिहुंक कर अपना हाथ हटा लिया।मेरा लण्ड पूरी तरह खड़ा हो चुका था.

दसवीं क्लास की पढ़ाई

क्या करते हो तुम दोनों?अनीता दीदी ने नेहा की बड़ी-बड़ी चूचियों को अपने हाथों से मसल डाला।यह कहानी आप अन्तर्वासना डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं !‘ऊंह.उन्होंने एक झलक मुझे ऊपर से नीचे घूर के देखा और मेरी भरे हुए स्तनों को दोनों हाथों से दबाते हुए मेरे ऊपर झुक कर मुझे फिर से चूमने और चूसने लगे।अब मैं भी खुल चुकी थी और गर्म होने लगी थी.

स्कूल की बीएफ सेक्सी तुम्हें लड़की में कौन सी चीज सबसे अच्छी लगती है।मैंने भी उनसे खुल कर कहा- भाभी वैसे तो मुझे पूरी की पूरी लड़की ही पसंद आती है.

सगी बहन को चोदा

क्स्क्स्क्स्क्समैंने इधर उधर देखा तो वो घर के बाहर हल्की रोशनी में कार के पास खड़े होकर शायद शराब पीने में मस्त थे।मैं वापस आ गया.

अब ये तीन लंगूर भी यहीं हैं इनका कुछ इंतजाम करके दोनों साथ में साली की ठुकाई करेंगे।अर्जुन- वाह.’मैं अपनी दो उंगलियाँ उसकी चूत में और तेज़ी से अन्दर-बाहर करने लगा। थोड़ी देर में रीता झड़ गई और निढाल होकर अपना सिर मेरे कंधे पर रख दिया।मैंने अपना हाथ उसकी सलवार से पोंछ लिया।रीता अपनी सलवार ठीक करने लगी.

यहाँ तक कि उसके मम्मों की भी तारीफ़ कर डाली।उसे बुरा नहीं लगा।मैंने उससे पूछा- तुम्हारे पास स्काइप एप्लीकेशन है।उसने कहा- हाँ।मैंने उससे कहा- तो चलो हम अभी वहाँ मिलते हैं।वो राज़ी हो गई।अब आगे.

कि क्या करना है?सोनिया बोली- मेरा मन तो ग्रुप सेक्स करने का है।मैंने बोला- ठीक है एक नए तरह का ग्रुप सेक्स ही करते हैं.

चलती बाईक में कुछ भी हो सकता है।मैंने एक जगह एक कच्चा रास्ता देखा और अपनी बाईक उधर मोड़ कर लगभग दो सौ मीटर अन्दर जाकर रुक गया।हम दोनों लोग ही उतरे. तब शमिका कॉर्नर के ग्रोसरी शॉप पर खड़ी थी।शमिका उन चार लड़कियों में से एक थी जिसकी मम्मी को मैंने पिछली बार झूठा साबित कर दिया था और उसके एवज में शमिका की मम्मी ने तानिया नाम के एक शीमेल से मेरी दुर्गति करवा दी थी इस घटना को आप मेरी पूर्व की कहानियों में पढ़ सकते हैं।अब उस घटना के बाद आज पहली बार मेरा शमिका से सामना हुआ था। तो इस घटना को आगे जानते हैं।मैं कुछ लेने के लिए शॉप में गया.

इंग्लिश पिक्चर ब्लू चिप्स तो खड़े हुए लोग मेरे ऊपर झुक जाते थे और मैं भी रीता की तरफ झुक जाता।उसके भाव से नहीं लगा कि उसे बुरा लग रहा था। मैं भी अपनी टाँग और कुहनी फैला कर बैठ गया। मेरी कुहनी उसकी चूचियों को छू रही थी। पहली बार तो वो सिकुड़ कर बैठ गई.

ब्लेजर इमेज

स्कूल की बीएफ सेक्सी: फिर तुम किस प्रकार के हिजड़े हो?पता नहीं वो अँधेरे में हँसा या मुस्कराया.वे बहुत जोर से हिलने लगे थे। सपन ने मॉम के दूध ज़ोर से पकड़ लिए।करीब 5 मिनट के बाद सपन बोला- रानी अब मेरा भी माल आने वाला है।मॉम बोलीं- अन्दर मत डालना.