सुहागरात की बीएफ चुदाई

Image source,बीएफ सेक्सी पति पत्नी

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ सेक्सी 2022 के: सुहागरात की बीएफ चुदाई, मैं बस यही सोचती कि काश कैसे भी आकर मुझे कोई अपनी बांहों में भर ले, और मेरे जिस्म को मसल दे … आज मेरी तमन्ना पूरी कर दे … मेरी प्यास बुझा दे, मेरे साथ जमकर सब वो करे जो मेरे गर्मी को शांत कर सके।परंतु ऐसा कोई नहीं मिला, कैसे मिलता जब तक कि कोई बातचीत ना हुई हो.

सेक्स बीएफ चालू

मैं उसका जोश देखते हुए उस पर चढ़ गया और मैं उसके पूरे जिस्म को चूमने लगा. नंगी छोरियांहम लोग अपनी मस्ती में सब भूल गए और हमें समय का कोई अंदाज नहीं रहा और चाचा चाची बच्चों के साथ वापस आ गए.

उसने जाते समय मुझसे अलग से घर बुला कर चुदाई की बात तय कर ली थी, मैं भी राजी था. बीएफ एचडी सेक्सी बीएफसो अब उस नजर से इसे समझने की कोशिश करने लगा।जब तक वीडियो खत्म होता, उससे पहले ही वह बाथरूम से निकल आई और उसे देख के मेरा मुंह खुश्क हो गया।उसने कपड़े उतार दिये थे और फिल्मी स्टाईल में ही एक टॉवल से खुद को लपेट लिया था। नीचे वह क्या पहने थी क्या नहीं.

वो बोलीं- पहले से तैयार था … अब बड़ा तो काफी हो चुका है, कभी किसी की चूत मारी?उनकी बिंदास भाषा और हरकत देख कर मैंने भी खुल कर कहा- नहीं.सुहागरात की बीएफ चुदाई: औरत स्नेह, ममता, वात्सल्य, आत्मीयता और अपनत्व, का अथाह सागर होती है.

दोस्तो, यह थी मेरी एक और आपबीती सेक्स की कहानी, आपको कैसी लगी मेरी ये चुदाई स्टोरी.जिससे उनके चूतड़ों से फटफट करते हुए मेरी गोटियां भी हर धक्के के साथ मजा ले रही थीं.

इंडियन देहाती फोटो एचडी - सुहागरात की बीएफ चुदाई

दोस्तो, ये तो आप भी जानते हैं कि सेक्स करने का असली मज़ा तब है, जब लड़की भी गर्म हो और उसे भी मजा आए.भाभी ने शरमाते हुए कहा- ये क्या कर रहे हो?मैं- भाभी सच कहूं तो जब से वो मायके गई है, मैं तो जैसे तड़प गया हूं.

तो फिर तू पहले की तरह बैठ न मेरे बिल्कुल पास, इतने सालों बाद मिली है आज!” मैंने कहा और उसकी कमर में हाथ लपेट कर उसे अपने से चिपका लिया.सुहागरात की बीएफ चुदाई दसवीं की परीक्षा के बाद कविता ने स्कूल छोड़ दिया और वो किसी दूसरे संस्थान में पढ़ने लगी.

मगर दोस्तों … क्या माल लग रही थी, उसने गहरे लाल रंग की साड़ी पहनी थी, जो जिस्म पे चिपक कर ग़दर मचा रही थी.

बीएफ सेक्सी सेक्सी अंग्रेजी?

सुहागरात की बीएफ चुदाई सेल्सगर्ल भी मुझसे मजे लेते हुए हुए बोली- साइज बताइए सर?आप जितना पहनती हैं उतना ही दिखाइए?” मैंने कहा।मैं 32 नम्बर की ब्रा पहनती हूं!” सेल्स गर्ल ने बेबाकी से कहा।अबकी बार चौंकने की बारी मेरी थी.

एक्स एक्स बीएफ चलने वाली?पॉर्न व्हिडीओ बीएफ

सुहागरात की बीएफ चुदाई पतली, गोरी, सुन्दर बाजू के बीच रगड़ मारता दीमा का लंड किसी आततायी की तरह नताशा के गुलाबी ब्लाउज को उधेड़ने लगा, और फिर हम दोनों लड़कों ने अपने हाथों से उसे नताशा के शरीर से अलग कर दिया.

मोटी गांड मारी

उनका अंदाज इतना सही था कि मुझसे रहा नहीं गया और मेरे लंड से एक डेढ़ मिनट में ही ज्वालामुखी फूट पड़ा.”ओह्ह… मेरी बेटी… मेरी बिल्ली हो तुम… कितने दिन से राह देख रहा था मैं इस पल की… आज जाकर मेरी हसरत पूरी हुई.

सुहागरात की बीएफ चुदाई मुझे रात को दूध पीने की आदत है।साक्षी हंसी और फिर दूध ले आई। मैं दूध पी कर बैठ गया, साक्षी बाथरूम चली गई।जब वो वापिस आई तो उन्होंने सिर्फ पिंक कलर का तौलिया लिपटाया हुआ था। उनके गोरे रंग पर पिंक रंग बहुत ही सेक्सी लग रहा था।साक्षी- तुम भी नहा लो।मैंने जल्दी से शावर लिया.

सेक्सी बीएफ वीडियो डॉट कॉम

तमिल की चुदाईइस अवस्था में खड़े होने की वजह से अशोक का चेहरा मयूरी किए घुटनों के समीप है और मयूरी की स्कर्ट बहुत छोटी होने की वजह से उसकी जांघों और चूत के आस-पास की जगह का अशोक बड़े आराम से दर्शन कर पा रहा था.

अपना लंड मैंने उसके हाथ में देने की कोशिश की, लेकिन उसने बंद आँखों से लंड को सिर्फ धीरे धीरे सहलाया.धीरे धीरे भाभी का भी दर्द कम होने लगा और वो अपनी गांड को उछाल उछाल कर मुझसे चुदवाने लगीं.

मयूरी ने अशोक का लंड पहली बार अपनी चूत में लिया था पर उसको बहुत ही ज्यादा आनन्द आ रहा था.

जब शीतल ने इस पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी तो उसका साहस और बढ़ गया, वो उसकी गांड को जोर जोर से दबाने लगा.

ओ माय गॉड! क्लास…” मैंने नाता की पीठ पर अपने हाथ का दबाव डालते हुए लंड को तेज रफ़्तार से ठसाठस भरी गांड में चला दिया, तो नताशा अपनी आँखें फैला कर हुंकार भर उठी. उसी रात मैंने माँ से कहा ‘माँ, देखा जिसे तुम मुझ से दूर करना चाहती थी, उसने आज तुम्हारी बेटी की बच्चे की बिना किसी झिझक के अपना बना लिया.

मालिक नौकरानी की चुदाई तरुण भैय्या ने मिताली दीदी को छोड़कर उस रंडी लड़की के साथ शादी कर ली.

नंगे सीन पिक्चर

सुहागरात की बीएफ चुदाई: मैंने 2 दिन बाद का टिकट लिया रिजर्वेशन उसी पटना हटिया में और मैं रांची चला गया वहां जाकर मैं जब सुबह करीब आठ बजे रांची के प्लेटफार्म पर उतरा ही था कि उन्होंने मुझे फोन किया तो मैंने उसे कहा कि मैं स्टेशन पर उतर गया हूं.मैं पूरे जोश में उसका सर अपनी चूत में दबा रही थी और वो पूरी तन्मयता से मेरी चूत को चाट रहा था.